Widgetized Section

Go to Admin » Appearance » Widgets » and move Gabfire Widget: Social into that MastheadOverlay zone

सरकार ‘बेटी बचाओ’ से आगे ‘बेटा बचाओ’ में लगी है

  • गुजरात दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर किया वार
  • अमेठी के दौरे पर पहुंचे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह
  •  राहुल के विवादित बयान पर मचा बवाल

वडोदरा/अमेठी (ईएमएस)। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र की कंपनी के कारोबार में भारी बढ़ोतरी से जुड़ी खबर के बाद राजनीतिक गलियारों में बवाल सा मच गया है। मंगलवार को जहां राहुल गांधी गुजरात के बड़ोदरा में रैली करने पहुंचे, वहीं भाजपा अध्यक्ष राहुल के संसदीय क्षेत्र अमेठी में थे। शाह ने भी राहुल पर जमकर बयान दिया…

जय शाह के खुलासे के बाद से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर बयानों की बौछार कर रहे हैं। मंगलवार को राहुल ने कहा- सरकार ‘बेटी बचाओÓ से आगे बढ़ते हुए ‘बेटा बचाओÓ में बदल गई है। राहुल की यह टिप्पणी ऐसे समय में सामने आई है जब भाजपा अध्यक्ष के पुत्र जय अमित शाह के समर्थन में अनेक केंद्रीय मंत्री सामने आ गए हैं। राजनाथ सिंह और पीयूष गोयल से लेकर कई केंद्रीय मंत्रियों ने खबर को निराधार बताया है। राहुल गांधी ने ट्विटर किया ‘बेटी बचाओ से, बेटा बचाओ के रूप में आश्चर्यजनक बदलाव।Ó उन्होंने शाह के पुत्र को ‘शाहजादाÓ के रूप में संबोधित किया। राहलु मंगलवार को गुजरात में लोगों के बीच अपनी बात रख रहे थे।

वहीं, जयपुर में कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि पीएम मोदी को अमित शाह को पार्टी अध्यक्ष पद से मुक्त कर देना चाहिए और इस दावे की उच्चतम न्यायालय के दो न्यायाधीशों के आयोग से जांच करानी चाहिए। उन्होंने कहा था कि यह प्रधानमंत्री के लिए कठिन होगा, देश उनकी ओर देख रहा है कि क्या वे मित्रता या दलगत राजनीति निभाते हैं अथवा सच्चाई एवं सदाचार का पालन करते हैं। सुरजेवाला ने कहा था कि इसमें पादर्शिता एवं जवाबदेही होनी चाहिए। अगर कोई गलत कार्य नहीं किया तब जांच से कैसा डर। देश विकास के इंतजार में है और जय का विकास हो गया।

भाजपा अध्यक्ष ने किया राहुल पर पलटवार

अमेठी से जीतने वाला यहां नहीं आता, हारने वाली ने जनता को गले लगाया
अमेठी में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। अमित शाह ने कहा कि मैं 35 सालों से सार्वजनिक जीवन में हूं, लेकिन मैंने ऐसा कभी नहीं देखा कि जीता हुआ प्रत्याशी अमेठी न आए और हारने वाली प्रत्याशी (स्मृति इरानी) अमेठी को गले लगाकर काम कर रही है। मैं अमेठी की जनता का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं कि अमेठी की 5 में 4 सीटें भारतीय जनता पार्टी ने जीती हैं। अमित शाह ने कहा कि अमेठी गांधी-नेहरू परिवार को वीआईपी क्षेत्र हैं। आजादी से लेकर अब तक बड़े-बड़े दिग्गजों को अमेठी से चुनाव जीताकर भेजा है, लेकिन जब तक योगी आदित्यनाथ की सरकार नहीं आई तब तक विकास के लिए क्या हुआ। अमेठी की धरती से मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि आपकी तीन पीढिय़ों को यहां की जनता ने वोट दिया अब ये लोग आपसे हिसाब मांग रहे हैं। आप मोदी सरकार के तीन साल का हिसाब मांगते हैं, लेकिन पहले तीन पीढिय़ों का हिसाब दें।

मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि अब तक अमेठी में कलेक्टर ऑफिस क्यों नहीं बना, अकाशावाणी का एफएम रेडियो क्यों नहीं आया, गरीबों को आवास क्यों नहीं मिला, टीबी का अस्पताल क्यों नहीं बना। इस देश में दो मॉडल हैं। एक गांधी-नेहरू परिवार मॉडल और दूसरा मोदी मॉडल। आप अमेठी और गुजरात के गांव की तुलना कर सकते हैं। गुजरात के हर गांव में 24 घंटे बिजली आती है। यूपी में योगी और दिल्ली में मोदी की जोड़ी यूपी को विकसित राज्य बनाने का प्रयास कर रहे हैं।

राहुल का विवादित बयान
क्या आरएसएस शाखा में महिला को शॉर्ट्स में देखा है?

बडोदरा रैली में राहुल ने बीजेपी के मातृ संगठन आरएसएस में महिला भागीदारी को लेकर एक बयान दिया। राहुल ने जनसभा को दौरान कहा, इनका (बीजेपी) संगठन आरएसएस है। कितनी महिला हैं उसमें, कभी शाखा में महिलाओं को देखा है शॉर्ट्स में? मैंने तो नहीं देखा। राहुल यहीं नहीं रुके और उन्होंने बीजेपी और आरएसएस पर महिलाओं के प्रति गैर-बराबरी का दृष्टिकोण रखने का आरोप भी लगाया।

राहुल क्या महिलाओं के कपड़े देखते रहते हैं: आनंदीबेन

इस बयान को लेकर राहुल की आलोचना भी हो रही है और बीजेपी ने भी तत्काल प्रतिक्रिया दी है। गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने इस बयान को लेकर राहुल गांधी से माफी मांगने के लिए कहा है। आनंदीबेन ने कहा, राहुल ने गुजरात की महिलाओं का अपमान किया है। आप अपने शब्द वापस लें और महिलाओं से माफी मांगें। अन्यथा पूरे गुजरात की महिलाएं इक_ी हो जाएंगी और गुजरात में आप अपनी रही-सही सीट भी खो देंगे। कांग्रेस माफी मांगे और राहुल अपने शब्द वापस लें।

राजीव तुली ने कहा, राहुल गांधी कल यह भी कह सकते हैं कि बीसीसीआई में महिला क्यों नहीं हैं, उन्हें क्या यह पता है कि भारत की महिला क्रिकेट टीम भी है। उन्होंने आगे कहा, राहुल गांधी को आरआरएस के बारे में पूरी जानकारी नहीं है। राष्ट्र सेविका समिति आरआरएस की महिला विंग है। राष्ट्र सेविका समिति की शाखा में महिला सदस्य अपनी यूनीफॉर्म में आती हैं।

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *