Widgetized Section

Go to Admin » Appearance » Widgets » and move Gabfire Widget: Social into that MastheadOverlay zone

धराशाही हुआ बाजार, 64 के पार पहुंचा रुपया

– चार दिन में 794 अंक टूटा सेंसेक्स, 247 अंक लुढ़का निफ्टी
– तीन सत्रों में डॉलर के मुकाबले 49 पैसे उतरा रुपया
– सेंसेक्स 266.5 अंक टूटकर 31,531 पर बंद
– निफ्टी 88 अंक गिरकर 9,820 पर बंद

मुंबई, (ईएमएस)। उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच, सीरिया को लेकर अमेरिका और रुस के बीच और भारत और चीन के बीच बढ़ रहे तनाव के कारण वैश्विक स्तर पर एशिया और यूरोप के लगभग सभी शेयर बाजारों में रही गिरावट का दबाव घरेलू शेयर बाजारों पर भी दिखा। वैश्विक कारणों के अलावा सेबी और शेल कंपनियों के बीच बढ़ते विवाद के सेट (न्यायालय) में जाने के बाद प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी लगातार चार सत्रों में गिरावट पर ही रहे। इस सप्ताह सेंसेक्स चार दिन में 794 अंक टूटकर 07 जुलाई के बाद के निचले स्तर पर पहुंच गया जबकि निफ्टी 246.5 अंक फिसलकर 12 जुलाई के बाद के निचले स्तर पर उतर आया है। वहीं दूसरी ओर तीन कारोबारी सत्र में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 49 पैसे की गिरावट के साथ 64 के स्तर के ऊपर निकल गया।

टाटा मोटर्स, टाटा मोटर्स डीवीआर, डॉ रेड्डीज, गेल, आयशर मोटर्स, बीएचईएल और सन फार्मा जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई भारी बिकवाली से गुरुवार को कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 266.5 अंक की गिरावट के साथ 31,531 के स्तर पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 88 अंक गिरकर 9,820 के स्तर पर बंद हुआ है। गुरुवार को बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी भारी गिरावट देखने को मिली। बीएसई का मिडकैप 401 अंकों की गिरावट के साथ 14,756 पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप 453 अंकों की गिरावट के साथ 15,182 पर बंद हुआ।
गुरुवार को वैश्विक स्तर पर जापान का निक्की 0.05 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.38 प्रतिशत, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.42 प्रतिशत और हांगकांग का हैंगसेंग 1.13 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुये। यूरोप में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का डैक्स 0.71 प्रतिशत और ब्रिटेन का एफटीएसई 1.07 प्रतिशत लुढ़क गये। घरेलू स्तर पर जारी दबाव के साथ साथ एशियाई और यूरोपीय बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू बाजार की शुरुआत भी गिरावट के साथ हुई। सेंसेक्स सुबह 47 अंकों की गिरावट के साथ 31,751 पर खुला। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 31,756 के ऊपरी स्तर और 31,423 के निचले स्तर को छुआ। इसी तरह निफ्टी 35 अंकों की गिरावट के साथ 9,873 पर खुला। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 9,893 के ऊपरी और 9,776 के निचले स्तर को छुआ। गुरुवार को बिकवाली का जोर इस कदर रहा कि बीएसई में जिन 2,683 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ उनमें मात्र 360 के शेयर तेजी पर रहे जबकि 2,214 में गिरावट रही वहीं 109 के भाव अपरिवर्तित रहे।

आर्थिक जानकारों का कहना है कि वैश्विक स्तर पर बढ़ तनाव के साथ साथ वैश्विक बाजार में अधिक लिक्विडीटी के कारण बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है। इसके अलावा स्थानीय स्तर पर शेल कंपनी मामले में जिन कंपनियों को लिस्ट में शामिल किये जाने के बाद शेयर बाजार और मुद्रा बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है।

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *