Widgetized Section

Go to Admin » Appearance » Widgets » and move Gabfire Widget: Social into that MastheadOverlay zone

मुकाबला: मर्सिडीज़ जीएलई400 (पेट्रोल) Vs बीएमडब्ल्यू एक्स5 (पेट्रोल)

भारत में अगर कोई शख्स मिड साइज लग्ज़री एसयूवी लेना चाहे तो उसे डीज़ल इंजन में कई वकल्प मिलेंगे। लेकिन अगर पेट्रोल इंजन वाली मिड साइज लग्ज़री एसयूवी लेनी हो तो यहां विकल्प बहुत ही सीमित हैं। इस साल से पहले तक तो यहां लग्ज़री सेगमेंट में कोई विकल्प ही नहीं था।

बड़े डीज़ल इंजन वाली कारों पर लगे बैन के बाद कंपनियों ने इस ओर ध्यान देना शुरु किया और मर्सिडीज़-बेंज ने अपनी सबसे ज्यादा बिकने वाली एसयूवी जीएलई400 का पेट्रोल वेरिएंट लॉन्च किया। इस के बाद बीएमडब्ल्यू ने भी एक्स5 का पेट्रोल अवतार उतारा।

यहां हमने कई मोर्चों पर इन दोनों एसयूवी की एक-दूसरे से तुलना की है, अगर आप भी इन दोनों में दिलचस्पी रखते हैं तो जानिये कौन, किसे, कहां तक टक्कर दे पाती है…
शुरूआत करते हैं इनकी कद-काठी से…. यहां लंबाई, चौड़ाई और व्हीलबेस के मामले में बीएमडब्ल्यू एक्स5 आगे है। एक्स5 की लम्बाई 4,886 एमएम, चौड़ाई 2184 एमएम और व्हीलबेस 2933 एमएम है। जबकि मर्सिडीज़-बेंज जीएलई 400 की लम्बाई 4819 एमएम, चौड़ाई 2141 एमएम और व्हीलबेस 2915 एमएम है। ऊंचाई और बूट स्पेस के मामले में जीएलई 400 ने बाजी मारी है। जीएलई 400 की ऊंचाई 1796 एमएम और बूट स्पेस 690 लीटर है। यह एक्स5 से 34 एमएम ऊंची और इसका बूट स्पेस एक्स5 से 40 लीटर ज्यादा है। वजन के मामले में जीएलई 400, एक्स5 से 60 किलोग्राम भारी है।

परफॉर्मेंस

दोनों ही एसयूवी में 3.0 लीटर का 6-सिलेंडर पेट्रोल इंजन लगा है। जीएलई का इंजन 337.7 पीएस की पावर और 480 एनएम का टॉर्क देता है। वहीं एक्स5 की पावर 306 पीएस और टॉर्क 400 एनएम है। यहां जीएलई 31पीएस की पावर और 80 एनएम के टॉर्क के साथ आगे है। जीएलई को 0 से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पर पहुंचने में छह सेकंड का समय लगता है, वहीं एक्स5 को 6.5 सेकंड लगते हैं। जीएलई की टॉप स्पीड 247 किमी प्रति घंटा है, जबकि एक्स5 की टॉप स्पीड 235 किमी प्रति घंटा है। यहां भी 12 किमी प्रति घंटे के आंकड़े के साथ जीएलई 400 आगे है। जीएलई में 7-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स दिया गया है, जबकि एक्स5 में 8-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स मिलेगा।

फीचर लिस्ट

दोनों ही कारों में वे सभी फीचर मिलेंगे जो इस सेगमेंट की एसयूवी में होने चाहिए। इनमें सनरूफ, हारमन कॉरडन का साउंड सिस्टम, ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल और लैदर अपहोल्स्ट्री जैसे फीचर दिए गए हैं। हालांकि सेफ्टी के मामले में जीएलई 400, एक्स5 से थोड़ी आगे है, जीएलई में क्रॉसविंड असिस्ट और अटेंशन असिस्ट जैसे सेफ्टी फीचर दिए गए हैं।

तो ये थी दोनों कारों की एक दूसरे से तुलना…यहां कई मोर्चो पर जीएलई ने बाजी मारी तो कई जगह एक्स5 ने भी अपना रूतबा जमाया। बीएमडब्ल्यू एक्स5 की छवि एक डायनामिक ड्राइविंग वाली कार की है, जबकि मर्सिडीज़ जीएलई को फन-टू-ड्राइव यानी चलाने में मजेदार कार माना जाता है। जीएलई में बड़ा बूट स्पेस और ज्यादा सेफ्टी फीचर भी मिलेंगे। अब दोनों में से कौन सी कार ली जाए, यह फैसला आपके पसंदीदा ब्रांड और आपकी जरूरतों पर निर्भर करता है।

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *