Loktej Androide App

विन्ध्याचल मंदिर में कीर्तन करता है एक मुसलमान भक्त

लखनऊ । नियमित रूप से पांच वक्त नमाज पढ़ने वाले उत्तर प्रदेश के मुस्तकीम अहमद हर साल नवरात्र में मिर्जापुर ाqस्थत विख्यात िंवध्याचल मंदिर में पूरे नौ दिन देवी का भजन-कीर्तन कर कौमी एकता की अनोखी मिसाल पेश कर रहे हैं। मिर्जापुर जिले के भटौली गांव निवासी मुस्तकीम का कहना है कि जब कण-कण में भगवान हैं तो क्या िंहदू और क्या मुसलमान? जब हम सब एक हैं तो इबादत हो या पूजा, ईश्वर को याद करना ही सबसे बड़ा धर्म है, चाहे वह किसी भी रूप में हो। उनका कहना है कि मैं करीब १५ वर्षों से हर साल नवरात्र के अवसर पर प्रसिद्ध िंवध्याचल मंदिर में लगातार नौ दिन देवी की पूजा-अर्चना करता हूं। मुस्तकीम पिछले २० वर्षों से मंदिरों में देवी गीत के कार्यक्रम और रामचरितमानस का संगीतमय पाठ कर रहे हैं। उनको रामायण की चौपाइयां गाते देख लोग उनकी प्रशंसा करने से खुद को नहीं रोक पाते। एक मुाqस्लम होकर देवी के गीत गाने और रामचरितमानस का पाठ करने का विरोध भी उनको झेलना पड़ा। कई रिश्तेदारों और मित्रों ने तो उनसे नाता भी तोड़ लिया है।

See These Videos

Share this news

Comment on this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>